निंदुरा ब्लाक में कुछ विशेष विकास नहीं हुआ एक साल में, नरेगा कुछ ठीक रहा! ( Part -2)

बाराबंकी: जिले का काफी बड़ा ब्लाक है निंदुरा ब्लाक। पंचायत के गठन के एक साल होने के बाद यहां विकास कोई खास नहीं हुआ है, बस नरेगा जरूर कुछ ठीक रहा है। पेश है कुछ पंचायतों की बात Part -2 :-

सरसवां के युवा प्रधान अंकित वर्मा ने एक साल में कई ऐसे काम करके दिखाए हैं जो वर्षों से कोई अन्य प्रधान नहीं करके दिखा पाया। 
उन्होंने बाराबंकी जिले के ग्रामीण क्षेत्र में आयुर्वेदिक अस्पताल सबसे पहले अपनी पंचायत में लाकर दिखाया है। और इसके लिए उन्होंने पंचायत की जो जमीन दिलाई उसके लिए उन्हें कई दबंग लोगों से भी टकराना पड़ा। इसके अलावा उनकी और एक विशेष उपलब्धि है कि उन्होंने पंचायत की एक आशा बहू का साढ़े तीन साल से अटका वेतन दिलवाया है। इसके अलावा उन्होंने करीब 700 मीटर इंटरलांकिग निर्माण के साथ नालियां रास्ते आदि सुधरवाए हैं। साथ ही तालाबों और कच्चे चकमार्गौ का नरेगा से काफी काम करवाया है। बाकी अमृत सरोवर, पानी की टंकी, बारात घर, शमशान घाट आदि प्रस्तावित हैं

सराय शहबाज की प्रधान नीरज सिंह ने एक साल में नाली खड़ंजो आदि के साथ सफाई व्यवस्था का काम करवाया है। नरेगा से काम चल रहा है, अमृत सरोवर का काम चल रहा है। उनके प्रतिनिधि सूरज सिंह ने बताया कि नया पंचायत घर बनने वाला है। इसके अलावा दबंग लोगों से तालाबों और सरकारी जमीनों से कब्जा हटवाने का प्रयास है। 
लोगों के अनुसार पिछले सालों में कोई खास विकास कार्य नहीं हुए थे लेकिन अब नीरज सिंह की कोशिशों से पंचायत का विकास किया जा रहा है।

बैना टीकरहार पंचायत की जनता ने बताया कि पिछले बहुत सालों से क्षेत्र में विकास कार्य ठप पड़े थे, अब जाकर रामशंकर गुप्ता के नेतृत्व में अच्छा काम होने की उम्मीद हैं। रामशंकर गुप्ता ने पंचायत की जरूरतों को देखते हुए अपने साथ मल्लावां पंचायत के पूर्व प्रधान राजेश यादव के अनुभवों की मदद ले रहे है। उल्लेखनीय है कि राजेश यादव को लगातार दस साल बेहतरीन प्रधान रहने का अनुभव है।

सिंहतरा पंचायत में एक साल में बहुत काम हुए हैं, प्रधान रोहित कुमार भारती ने बताया कि पंचायत भवन बनवाया, सामुदायिक शौचालय बनवाया। बाकी कामों में एक आंगनबाड़ी भवन वषों से अधूरा पड़ा है, सफाई कर्मी का पद रिक्त है। इसके अलावा पंचायत में एनम सेंटर, बारात घर, शमशान घाट आदि नहीं है इनका प्रयास जारी है।

खटौली के प्रधान संजय कुमार ने बताया कि पुराने पंचायत घर को बहुत से लोगों ने अपने निजी ‌‌‌इस्तेमाल की चीज बना लिया था उन सबको हटाकर पंचायत घर का मरम्मत करवाया गया है। पंचायत में एनम सेंटर, बारात घर, शमशान घाट आदि नहीं है जिसका प्रयास है।

हसुवापारा की प्रधान रामकली और उनके प्रतिनिधि पति और पूर्व प्रधान रमेश चंद्र ने बताया कि पंचायत घर, सामुदायिक शौचालय आदि ठीक है। इंटरलांकिग, नाली खड़ंजे आदि का काम हुआ है। एनम सेंटर है बारात घर, शमशान घाट आदि का प्रयास है।

अमावा की प्रधान जगमती, गौडैचा के रामवीर, बंदगीनगर के अमर सिंह रावत, देवरा के चदंनलाल, काजी बहेटा के प्रधान कुर्बान अली आदि ने अच्छा काम किया है।

जमोलिया के प्रधान हनुमान ने स्कूल आदि सरकारी भवनों के काम करवाए हैं। अन्य कार्य भी करवाए जा रहे हैं।
                  
बड़डूपुर के प्रधान गजराज रावत ने बताया कि पंचायत भवन स्कूल आदि में कार्य हुए हैं। बारात घर, एनम सेंटर, पानी की टंकी का प्रयास है।

झरसवां के प्रधान विनोद कुमार मौर्या हैं अच्छा काम कर रहे हैं। उन्होंने बताया कि क्षेत्र के प्रसिद्ध समाजसेवी विजय सिंह के मार्गदर्शन में बेहतरीन काम हो रहे हैं।

काजी बेहटा के कुर्बान, पिपरौली के रहमत अली, समरदा की राजेश्वरी आदि अच्छा काम कर रहे हैं।

कतुरी खुर्द की प्रधान रोशन जहां और उनके प्रतिनिधि परवेज ने बताया कि उन्होंने गांव में जलभराव को काफी हद तक खत्म किया हैं, करीब 250 मीटर इंटरलांकिग निर्माण करवाया है।

परवरभारी के प्रधान रामप्रसाद के साथ में चुनौतियां बहुत है। पिछले कुछ सालों से कोई विकास नही हुआ हैं। करीब 500 मीटर इंटरलांकिग के साथ अन्य कार्य करवाए हैं। पंचायत भवन मरम्मत हो चुका है। बाकी अमृत सरोवर अन्य सरकारी भवन आदि का कार्य प्रस्तावित है।

लिलौली के प्रधान अभय सिंह सैनी ने बताया कि उनका पूरा प्रयास पंचायत की शिक्षा व्यवस्था को बेहतरीन बनाने का है। बाकी उन्होंने अन्य कई कार्यों के साथ करीब 250 मीटर इंटरलांकिग आदि का निर्माण करवाया है।

डिंगरी पंचायत में लोगों ने बताया कि पिछले प्रधान ने सामुदायिक शौचालय बहुत दूर बनवा दिया गया है जहां कोई जाता नहीं है। प्रधान अंशू देवी और उनके पति व प्रतिनिधि विजय यादव ने बताया कि अभी तक पंचायत भवन नहीं बन सका हैं। आंगनबाड़ी आदि सरकारी भवन नहीं है। पंचायत में लाइट व्यवस्था बड़ी खराब है।

मल्लावां प्रधान अनवर जहां और उनके पुत्र मो० जावेद ने बताया कि एक बहुत अच्छा नहीं गुजरा है। पेमेंट समय पर ना होने से विकास कार्यों में बड़ी दिक्कत है। बाकी पंचायत भवन, सामुदायिक शौचालय आदि ठीक है।

सालेहपुर की प्रधान रामकली ने पंचायत घर नया बनवाया है। सामुदायिक शौचालय ठीक है। उनके पति व प्रतिनिधि प्रकाश रावत ने बताया कि उपस्वास्थ्य केंद्र आंगनबाड़ी भवन आदि नही है। स्ट्रीट लाइट नही है इसका प्रयास किया जा रहा है।

रैंगवा के प्रधान चंद्रपाल ने कई कार्य करवाए हैं।

 =========================================================================

(यह रिपोर्ट आपको कैसी लगी कृपया ईमेल, व्हाट्सएप, फोन आदि माध्यमों से हमें जरूर बताएं, ताकि कुछ कमी हो, गलती हो, या शिकायत हो, तो हम उसे सुधार सकें, साथ ही अपने  बहुमूल्य विचार भी प्रकट करें 

इस रिपोर्ट को आप अपने क्षेत्र, कार्य सहयोगी ,जनता व जिम्मेदार पदों तक शेयर भी करें! धन्यवाद! )

Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image