ग्राम पंचायतों के गठन का एक साल और ब्लाक 'बख्शी का तालाब' Part- 2
लखनऊ: जिले का सबसे बड़ा ब्लाक बख्शी का तालाब में ग्राम पंचायतों के गठन के एक साल बाद काफी काम हुए हैं। ग्राम प्रधानों ने अपने सकारात्मक प्रयासों से बहुत कुछ बदलने का प्रयास किया है। पेश है ऐसी ही कुछ और भी पंचायतों की बात:-


उसरना के प्रधान छोटेलाल यादव ने एक साल में बहुत काम करवाए हैं। उनके प्रतिनिधि चंद्रिकाबख्श सिंह ने बताया कि पंचायत भवन का कार्य करवाया जा रहा है। दिव्यांग शौचालय व स्कूलों का सुधार आदि के काम करवाए गए हैं। एक साल में पंचायत की तस्वीर बदलने का प्रयास किया गया है, बाकी के काम आगे जल्द से जल्द करवाए जाएंगे। पंचायत वासियों ने बताया कि पिछले दस सालों से क्षेत्र में विकास कार्य रुक जैसे गए थे,  अब सारे कार्य करवाए जा रहे हैं। चंद्रिकाबख्श सिंह ने बताया कि पंचायत भवन पूर्ण होने के बाद बहुत शानदार भवन बनकर तैयार होगा। उन्होंने कहा कि आबादी को देखते हुए पंचायत में एक और सफाई कर्मी की जरूरत है।

असनहा के प्रधान राजीव कुमार उर्फ राजू ने एक साल में बहुत से कार्य करवाए हैं। पंचायत भवन, सामुदायिक शौचालय, स्कूलों आदि के साथ सरकारी भवनों के सुधार करवाए हैं। उन्होंने करीब 800 मीटर इंटरलांकिग का निर्माण करवाया व अन्य नाली खड़ंजों को भी सुधरवाया है। लोगों ने कहा कि पिछले दस साल से असनहा पंचायत में कोई खास विकास कार्य नहीं हुए थे, अब राजू प्रधान के आने के बाद लगभग सभी कार्य करवाए जा रहे हैं।

मिश्रीपुर के प्रधान मुस्तफा ने कई कार्य करवाए हैं एक साल में। सड़क नाली खड़ंजे पर काम हो रहा है। मुस्तफा प्रधान जन समस्याओं पर ज्यादा ध्यान दे रहे हैं, क्योंकि इसी जनता ने उन्हें दूसरी बार प्रधान चुना है। मुस्तफा का कहना है कि सरकार भुगतान समय पर करे तो कार्य और तेजी से हो सकते हैं।

सआदतनगर गढ़ा प्रधान वीरपाल यादव ने पंचायत भवन की मरम्मत करवाई, आंगनबाड़ी की बाउंड्री मरम्मत करवाई, स्कूल का काम करवाया, दिव्यांग शौचालय का प्रयास है। इसके अलावा नरेगा से नाला निर्माण हो रहा है, पानी की टंकी बनने वाली हैं, गौशाला का सुधार और टिन शेड बनवाया है, कुछ समस्याएं भी हैं, जैसे गढ़ा स्कूल का रसोई घर जर्जर है, और सूरजपुर स्कूल की फर्श बाउंड्री आदि टूटी हुई है। वीरपाल ने कहा कि एक साल अच्छा गया है, उम्मीद है आगे के चार साल भी अच्छे जाएंगे।

बाहरगांव के प्रधान मधुराम रावत पंचायत वासियों के अनुसार बहुत अच्छे प्रधान साबित हो रहे है, पंचायत भवन पूरा करवाया है, सामुदायिक शौचालय का काम चल रहा है, इसके अलावा नालियों, रास्ते सुधरवाए है, रेन वाटर हार्वेस्टिंग बनवाया है, कई और काम का प्रयास है। सफाई कर्मी मनमानी करता है लोगों के मुताबिक कभी कभार ही आता हैं।

कुनौरा शाहपुर की प्रधान रमा देवी ने बताया कि एक साल में बहुत काम करवाए हैं। पंचायत भवन बन रहा है, नाली सड़कों आदि को सुधारा जा रहा है ‌‌‌उन्होंने बताया कि गड़रहिया मजरे में स्थित पूर्व माध्यमिक विद्यालय बहुत जर्जर है और कभी भी गिर सकता है, इससे बच्चों और टीचरों की जान को खतरा हो सकता है। कई जगह शिकायत की गई लेकिन प्रशासन द्वारा सुनवाई नही हो रही है।

रजौली पंचायत के प्रधान श्यामू चौरसिया ने अपनी पंचायत में कई विकास कार्य करवाए हैं। रजौली के प्रसिद्ध समाजसेवी व्यक्ति मो० नदीम श्यामू चौरसिया के मार्ग दर्शक और किसान यूनियन के मंडल उपाध्यक्ष हैं। उन्होंने बताया कि निस्वार्थ भाव से पंचायत की जनता की सेवा और पंचायत का चंद्रमुखी विकास ही हमारा लक्ष्य है। पंचायत घर का मरम्मत हो रहा है। नहर से गांव तक आरसीसी रोड, खोजे पुरवा में 315 मीटर आरसीसी रोड बन चुकी है, स्कूल सुधार के कार्य हुए हैं, दिव्यांग शौचालय बने हैं। पानी की टंकी बन रही है। और यह सब हुआ है मो० नदीम के प्रयासों से। नदीम ने बताया कि सफाई व्यवस्था बड़ी समस्या है। पंचायत में, वे अपने करीब एक लाख रुपए खर्च कर लेबर लगा कर सफाई करवा चुके हैं। उनकी प्रशासन से मांग है कि कम से कम तीन और सफाई कर्मी पंचायत में दिए जाएं।

जमखनवा की प्रधान सरोज लता और उनके प्रतिनिधि ऋषि तिवारी ने बताया कि पूर्व प्रधान रमेश चंद्र तिवारी के मार्गदर्शन में पंचायत भवन, सामुदायिक शौचालय, आंगनबाड़ी भवन आदि मरम्मत करवाया है। इसके अलावा स्ट्रीट लाइटों पर बहुत अच्छा काम हुआ है। इंटरलांकिग, नालियां आदि बनी है। पानी की टंकी बनने वाली हैं। स्कूल की बाउंड्री वगैरह जर्जर है, जिसका प्रयास हो रहा है।

अहमदपुर खेड़ा की प्रधान नादिया अफरोज का एक वर्ष का कार्यकाल बहुत अच्छा गया है। उनके पति व प्रतिनिधि मो० नदीम खान 'आशू' ने बहुत प्रयासों से कई अच्छे कार्य करवाए है। पंचायत में दो स्कूल हैं और उनमें सभी कार्य हो चुके हैं, इस अच्छे प्रयास के लिए पंचायत को पुरस्कृत भी किया गया है। इसके अलावा नालियां रास्तों आदि के साथ इंटरलांकिग भी करवाई गई है ‌‌, अन्य कार्यों के लिए प्रयास जारी हैं। गांव में स्ट्रीट लाइटों पर भी बहुत अच्छा काम हुआ है।

इंदारा की प्रधान कोमल गुप्ता ने कई विकास कार्य कराए हैं, लेकिन शासन व्यवस्था से भी कई शिकायत हैं। उनके पति व प्रतिनिधि अमित गुप्ता ने बताया कि गौशाला में प्रति जानवर 30 रुपये मिलता है जो कि नाकाफी है और समय पर भी नहीं मिलता है, प्रधान लोग कैसे गौशाला चलाएं? 
इसके अलावा तीन आंगनबाड़ी हैं और उसमें जितने बच्चें हैं उनकी संख्या से आधा ही पुष्टाहार भेजा जाता है। शासन में ऊपर तक कहा गया लेकिन कोई सुनवाई नहीं हुई। 
पानी की टंकी बन रही है, इंटरलाकिग का प्रयास है। 
अमित गुप्ता ने दावे से कहा कि पंचायत दो चीजों में अव्वल है, एक- सफाई और दूसरा रोशनी। सभी गांव लाइट से भरपूर हैं।


हनुमंतपुर प्रधान शंकरलाल ने बताया कि इलाके में सबसे पिछड़ा क्षेत्र हनुमंतपुर पंचायत का है। चारों तरफ रास्ते खराब हैं,जल निकासी की समस्या है। बाकी उन्होंने पंचायत घर निर्माण करवाया है, सामुदायिक शौचालय चल रहा है। बाकी कामों का प्रयास किया जा रहा है।

जलालपुर प्रधान देशराज ने एक साल में करीब  700 मीटर नालियां बनवाई, 200 मीटर के करीब इंटरलांकिग लगवाई। इसके अलावा पंचायत घर, आंगनबाड़ी भवन स्कूल आदि की मरम्मत का प्रयास चल रहा है।

करौंदी के श्रीकांत ने अपने पहले कार्यकाल में जितने अच्छे कार्य करवाए थे उसी की तर्ज पर उनका दूसरा कार्यकाल भी चल रहा है। बहुत अच्छे कार्य करवा रहे हैं। पंचायत का चंद्रमुखी विकास हो रहा है, श्री कांत ने कहा कि पंचायत को पेमेंट वगैरह सही समय पर होता रहे तो कार्य और तेजी से होंगे।

लुधौली की प्रधान चंद्रावती के अच्छे कार्यों को देखते हुए पंचायत वासियों ने फिर एक बार उन्हें दूसरी बार प्रधान चुना है। और वे सबकी उम्मीदों पर खरा भी उतर रही हैं। उनके पति व प्रतिनिधि अजय कुमार ने बताया कि सामुदायिक केंद्र, स्कूल, पंचायत भवन आदि ठीक करवाए हैं। सड़कें सुधरवाए है, अन्य कामों का प्रयास हैं।

दौलतपुर की प्रधान ऊषा सिंह ने एक साल के अंदर सामुदायिक केंद्र की मरम्मत, चकमार्ग आदि के काम करवाए हैं, उनके पति प्रतिनिधि उदयभान सिंह ने बताया कि पंचायत भवन जर्जर है, नालियां रास्ते बनवाने है, इसके अलावा शमशान घाट भी प्रस्तावित है।

चांदपुर खानीपुर के प्रधान संतराम ने बताया एक साल में काफी कुछ काम करवाए हैं। उन्होंने बताया कि चांदपुर निवासी शिवकुमार पुत्र नान्हूराम ने सोलर लाइट और सरकारी नल पर कब्जा कर लिया है, और सरकारी नल अपना समरसिबल पंप लगवा दिया है।

बीबीपुर प्रधान सुरेन्द्र कुमार ने एक साल में वर्षों पुराना कब्जा छुड़वाकर बड़ा चकमार्ग बनवाया, खलिहान खाली करवाया पंचायत भवन, स्कूल आदि के काम करवाए हैं। इसके अलावा पंचायत में एक पीएचसी बनवाने का प्रयास है।

गुलालपुर के प्रधान रामनाथ ने पंचायत भवन, सामुदायिक शौचालय का निर्माण करवाया, कुछ स्कूल जर्जर हैं। कोटा वितरण ठीक नहीं है।

गोहना खुर्द की प्रधान शीला देवी ने बताया कि उन्होंने बहुत काम करवाया है, ख़ासतौर से नरेगा का कच्चा काम। कच्चे काम करवाने के लिए गोहना खुर्द पंचायत को ब्लाक स्तर पर सम्मानित किया जा चुका है। उनके पति व प्रतिनिधि  रंजीत कुमार ने बताया कि उन्होंने 15-16 चकमार्ग बनवाए, करीब तीस बीघा सरकारी जमीन अवैध कब्जे से मुक्त करवा कर योजनाओं में लगाई, वृक्षारोपण करवाकर तीन बीघा जमीन पर बगिया तैयार करवाई है।

ढिलवासी के अनुज प्रताप सिंह ने बताया कि सभी कार्य सुचारू रूप से चल रहे हैं। क्षेत्र में हाई स्कूल का जल्दी से जल्दी निमार्ण का प्रयास किया जा रहा है ‌।

रायपुर राजा पंचायत की प्रधान श्रीमती सरोज यादव ने पंचायत घर का निर्माण कराया, स्कूल के कार्य करवाए, उनके पति व प्रतिनिधि प्रदीप कुमार यादव ने बताया कि जो काम कभी नहीं हुए थे वह उन्होंने करवाए, दो-दो नए आंगनबाड़ी बनवाए, उनका प्रयास है कि रायपुर राजा से मालरोड के बीच कच्ची सड़क पर खड़ंजा लगवाया जाए। इसके अलावा स्कूलों में बाउंड्री, सामुदायिक केंद्र जर्जर है। और भी अन्य कामों का प्रयास हैं।

दुधरा पंचायत के प्रधान गोकुल राजपूत ने पंचायत घर करीब 80% पूरा करवाया है। स्कूल जर्जर है, आंगनबाड़ी नहीं है, नालियां चोक है और रास्ते गलियां बनने बाकी हैं। लोगों ने कहा कि पंचायत में पिछले कई सालों विकास कार्य ठप्प पड़े थे अब उन्हें गोकुल राजपूत से काफी उम्मीदें हैं।

 ========================================================================

(यह रिपोर्ट आपको कैसी लगी कृपया ईमेल, व्हाट्सएप, फोन आदि माध्यमों से हमें जरूर बताएं, ताकि कुछ कमी हो, गलती हो, या शिकायत हो, तो हम उसे सुधार सकें, साथ ही अपने  बहुमूल्य विचार भी प्रकट करें 

इस रिपोर्ट को आप अपने क्षेत्र, कार्य सहयोगी ,जनता व जिम्मेदार पदों तक शेयर भी करें! धन्यवाद! )






Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image