फल विक्रेता से इलेक्ट्रीशियन और फिर बना फर्जी डॉक्टर, करने लगा कोरोना मरीजों का इलाज

 

नागपुर। महाराष्ट्र के नागपुर जिले में एक फल विक्रेता को कोरोना वायरस संक्रमित रोगियों का इलाज करने के आरोप में गिरफ्तार किया है। आरोपी फल विक्रेता अपने आप को डॉक्टर बताता है। पुलिस के अनुसार चंदन नरेश चौधरी नागपुर के काम्पटी इलाके का रहने वाला है और जो पहले फल तथा आईसक्रीम बचेता था और बाद में उसने इलेक्ट्रीशियन का काम भी शुरू किया। आरोपी चौधरी पिछले पांच वर्षों से ओम नारायण मल्टीपर्पज सोसाइटी नाम से एक धर्मार्थ औषधालय भी चलाता है जहाँ वह रोगियों को आयुर्वेद प्राकृतिक उपचार देता है।
 
देश में चल रहे कोरोना वायरस महामारी की स्थिति का लाभ उठाते हुए इस फर्जी डॉक्टर ने नागपुर जिले में अपने औषधालय में कोविड-19 रोगियों का इलाज कर रहा था। यह मामला तब सामने आया जब उसके किसी एक परिचित ने इस मामले की शिकायत जिला पुलिस को दी। पुलिस ने सूचना मिलने के बाद चौधरी की डिस्पेंसरी में छापा मारा और अपने आप को डॉक्टर बताने वाले को गिरफ्तार कर लिया गया। पुलिस ने डिस्पेंसरी से ऑक्सीजन के सिलेंडर, सीरिंज और अन्य चिकित्सीय उपकरण को भी जब्त कर लिया है। पुलिस ने आरोपी को महाराष्ट्र प्रैक्टिशनर्स एक्ट के तहत गिरफ्तार किया है।


Popular posts
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image
एक चौथाई कार्यकाल के बाद प्रसिद्ध देवा ब्लाक में विकास की स्थिति कुछ- कुछ ठीक रही है!
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड द्वितीय (नया वार्ड) : युवा जोश युवा सोच से ओत- प्रोत वीरेंद्र राजपूत
Image