ये शख्स हर दिन 190 आवारा कुत्तों को खिलाता हैं चिकन बिरयानी, कहा- अब मेरे बच्चों की तरह

 

देश में कोरोना संक्रमण लगातार बढ़ रहा है। इस वायरस के चलते कई राज्यों में लॉकडाउन लागू है। वहीं पिछले एक साल से कोविड-19 के कारण कई लोग बेरोजगार हो गए हैं। उन्हें एक समय का भोजन नहीं मिल पा रहे हैं। वह खाने के लिए संघर्ष कर रहे हैं। इधर महाराष्ट्र के नागपुर का एक शख्स लगभग 190 आवारा कुत्तों को शानदार चिकन बिरयानी खिला रहा हैं।रंजीत नाथ कोरोना महामारी की शुरुआत के बाद से प्रतिदिन लगभग 40 किलोग्राम चिकन बिरयानी पका रहे हैं। वह करीब 190 कुत्तों को खाना खिलाते हैं। 

न्यूज एजेंसी एएनआई से बात करते हुए नाथ ने बताया कि मैं बुधवार, रविवार और शुक्रवार को व्यस्त रहता हूं। मैं इन कुत्तों के लिए 30-40 किलोग्राम बिरयानी तैयार करता हूं। वे अब मेरे बच्चों की तरह हैं। मैं जिंदा रहने तक यह काम करूंगा। यह मुझे खुशी देता है। रंजीत ने कहा कि उनके दिन की शुरुआत बिरयानी की तैयारी से होती है। वह इसे दोपहर से पकाना शुरू कर देता है और रोजाना शाम 5 बजे अपनी बाइक पर आवारा कुत्तों को खिलाने के लिए शहर का चक्कर लगाते हैं।

नाथ ने कहा, 'मेरे 10-12 निश्चित स्थान हैं और मेरे बच्चे उन्हें जानते हैं।' जैसे ही वे मुझे देखते हैं, वे मेरी ओर दौड़ने लगते हैं। उन्होंने कहा कि मैं आवारा जानवरों के साथ कोई भेदभाव नहीं करता। मैं बिल्लियों को भी खिलाता हूं। रंजीत ने आगे बताया कि चिकन बिरयानी में मीट कम और हड्डियां ज्यादा होती है। मुझे चिकन का बोनी वाला हिस्सा सस्ती दर पर मिलता है। जिससे मुझे और कुत्तों को खिलाने में मदद मिलती है। पिछले महीने तक ज्यादातर खर्च मेरी जेब से होता था।


Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image