चीन में देखते ही देखते गायब हुए लाखों बच्चे, अब पानी की बोतल के जरिये मां-बाप कर रहे...


दुनिया में इन दिनों चीन कोरोना वायरस की वजह से कई देशों के निशाने पर है। इस देश से ही वायरस की उत्पत्ति के कारण कई देश इससे हर्जाना लेने के मूड में है। चीन काफी लंबे समय से कई कारणों से चर्चा में रहा है। चीन ना सिर्फ दूसरे देशों के लिए परेशानी पैदा करता है बल्कि इस देश के अंदर भी कई तरह की परेशानियां है। एक रिपोर्ट के मुताबिक, इस देश में हर साल 2 लाख बच्चे गायब हो जाते हैं। इन बच्चों का कभी कोई पता नहीं चल पाता। इनमें लड़के और लड़कियां दोनों शामिल हैं। अब इस देश ने इन बच्चों को ढूंढने के लिए नया तरीका अपनाया है। इस तरीके की चर्चा दुनिया भर में हो रही है। चीन के सुपरमार्केट में अब पानी की बोतल के जरिये गुमशुदा बच्चों को ढूंढा जा रहा है। 


चीन के सुपरमार्केट में गायब हुए बच्चों की तलाश पीने के पानी के बोतल के जरिये की जा रही है। जिन बच्चों की तलाश की जा रही है उनके पेरेंट्स ने इस तरीके की सराहना की है। चीनी शहर क्सियन में सुपरमार्केट में बिक रहे पानी की बोतलों के ऊपर छोटे-छोटे बच्चों की तस्वीर छपी है। राशन दूकान से लेकर सुपरमार्केट में बिक रहे इन बोतलों पर गुमशुदा बच्चों की तस्वीर के साथ उनकी जानकारी भी दी गई है। 2017 से चीनी सुपरमार्केट्स इस तरीके को अपना रहे हैं। पानी की बोतल में बच्चों की तस्वीर के इस आइडिया को चीन के मुख्य चैरिटी कंपनी बेबी होम केयर और बाओ बेई हुई जिअ फंड कर रही हैं। 


ये संस्थाएं 2017 से चीन के प्रमुख बेवरेज कंपनी लंक्सीअंग के साथ काम कर रहे हैं। इसमें सोडा वॉटर की बोतलों के ऊपर बच्चों की तस्वीर छपी है। साथ ही उनका नाम और बाकि की डिटेल्स दी जाती है। तस्वीर में एक बोतल के ऊपर छपी बच्चे की तस्वीर। साथ में उसका बर्थडे और वो कब गायब हुआ था सहित बाकी जरुरी जानकारी लिखी गई है। इन बोतलों पर एक ख़ास मैसेज भी लिखा जाता है। इसमें लिखा होता है कि आप कोई भी हो, हमारे बच्चों को वापस घर तक लाने में मदद करें। रिपोर्ट के मुताबिक, हर साल चीन में 20 हजार से 2 लाख बच्चे गायब हो जाते हैं। इनका कोई पता नहीं चल पाता है। इनमें से 64 प्रतिशत लड़के होते हैं। इन बच्चों को ढूंढने के इस तरीके की दुनियाभर में सराहना हो रही है। अन्य देशों के लोगों ने भी इस तरीके को अपनाने की अपील अपने देश की सरकार से की है।


Popular posts
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image
एक चौथाई कार्यकाल के बाद प्रसिद्ध देवा ब्लाक में विकास की स्थिति कुछ- कुछ ठीक रही है!
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड द्वितीय (नया वार्ड) : युवा जोश युवा सोच से ओत- प्रोत वीरेंद्र राजपूत
Image