दुनिया का सबसे बड़ा हेल्थकेयर प्रोग्राम बना आयुष्मान भारत, लाभार्थियों की संख्या 1 करोड़ पार

पीएम मोदी ने कहा कि आयुष्मान भारत से जुड़े अन्य सभी के प्रयासों ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम बना दिया है। इस पहल ने कई भारतीयों, विशेष रूप से गरीबों और दलितों का विश्वास जीता है।





आयुष्मान भारत, जैसा कि इस योजना के नाम से ही इसके उद्देश्य ज्ञात हो जाता है। भारतीय परंपरा में जब भी बड़े-बुजुर्ग किसी को आशीर्वाद देते हैं तो कहते हैं -आयुष्मान भव:, यानी कि सेहतमंद रहने और लंबी आयु का आशीर्वाद। आयुष्मान भारत योजना का उद्देश भी इसके बिल्कुल समान है, यानि भारतवासियों की स्वास्थय का ध्यान रखना और उनकी लंबी आयु की कामना। यह हर भारतीय के लिए गर्व का क्षण है क्योंकि आयुष्मान भारत के लाभार्थियों की संख्या 1 करोड़ को पार कर गई है। जिसकी जानकारी प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्वीट कर दी है।


पीएम मोदी ने लिखा कि दो साल से भी कम समय में इस पहल का इतने लोगों पर सकारात्मक प्रभाव पड़ा है। साथ ही पीएम मोदी ने सभी लाभार्थियों को इसकी बधाई देते हुए कहा कि उनके अच्छे स्वास्थ्य की कामना भी की। पीएम ने डॉक्टरों, नर्सों, स्वास्थ्य कार्यकर्ताओं और आयुष्मान भारत से जुड़े सभी लोगों की सराहना करते हुए कहा कि नर्स, स्वास्थ्य कार्यकर्ता और आयुष्मान भारत से जुड़े अन्य सभी के प्रयासों ने इसे दुनिया का सबसे बड़ा स्वास्थ्य सेवा कार्यक्रम बना दिया है। इस पहल ने कई भारतीयों, विशेष रूप से गरीबों और दलितों का विश्वास जीता है।


 







इसे भी पढ़ें: PM मोदी का मुरीद हुआ New York Times, बताया



Popular posts
शहीद भगत सिंह वार्ड द्वितीय : नए वार्ड के विकास के लिए पूरी प्रतिबद्धता से चुनावी लड़ाई में हैं दिनेश कुमार रावत
Image
जानकीपुरम वार्ड तृतीय : शिक्षित- समर्पित, जनता व पार्टी के लिए लाभकारी पार्षद होंगे राकेश रावत (एडवोकेट)
Image
फजुल्लागंज वार्ड चतुर्थ : युवा जोश और विकास की नई सोच से ओत-प्रोत हैं पंकज रावत उर्फ आदित्य
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : श्री राधाकृष्ण मंदिर के आशीर्वाद से जनता तो खुश रहेगी ही, पार्टी भी खुश रहेगी - मायाराम यादव
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : वार्ड की जनता ने ठाना है उपविजेता प्रकाश राजपूत को अबकी विजेता बनाना है।
Image