इस देश में नहीं है एक भी पुरुष, शादी के लिए तरस रही महिलाएँ


किर्गिज़स्तान, जिसे किर्गिज़िया के नाम से भी जाना जाता है, मध्य एशिया का एक देश है। किर्गिस्तान एक भू-भाग वाला देश है, जिसमें पहाड़ी इलाके हैं। यह कजाकिस्तान, उजबेकिस्तान और पूर्व में चीन से घिरा है। यहाँ के लोग आज से कई साल पहले खानाबदोश थे वह अपना जीवन यापन घोड़ो का पालन, पशु पालन और ईगल द्वारा शिकार करके करते थे। 


लेकिन वक़्त के साथ -2 परिस्थितियाँ बदलती गयी और लोगो ने अपना अपने परिवार का पेट पालने के लिए काम के तालाश में शहर की और रुख किया। सदियों से यहां के पुरुष विदेश में काम करने के लिए जा रहे है। लगभग 800,000 पुरुष जो विशेष रूप से 18 से 35 वर्ष की आयु के है काम करने के लिए पहले ही विदा ले चुके हैं। इस देश में सिर्फ अब महिलाए व बच्चे है। टवर्क समस्या कि वजह से ये अपने परिवार से बाते भी नहीं कर पाते और साल में 1 या 2 बार ही इनकी मुलाकात हो पाती है अपने परिवार से।


Popular posts
शहीद भगत सिंह वार्ड द्वितीय : नए वार्ड के विकास के लिए पूरी प्रतिबद्धता से चुनावी लड़ाई में हैं दिनेश कुमार रावत
Image
जानकीपुरम वार्ड तृतीय : शिक्षित- समर्पित, जनता व पार्टी के लिए लाभकारी पार्षद होंगे राकेश रावत (एडवोकेट)
Image
फजुल्लागंज वार्ड चतुर्थ : युवा जोश और विकास की नई सोच से ओत-प्रोत हैं पंकज रावत उर्फ आदित्य
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : श्री राधाकृष्ण मंदिर के आशीर्वाद से जनता तो खुश रहेगी ही, पार्टी भी खुश रहेगी - मायाराम यादव
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : वार्ड की जनता ने ठाना है उपविजेता प्रकाश राजपूत को अबकी विजेता बनाना है।
Image