बच्चे के सीने में दिखा कुछ एसा.. X-Ray देखने के बाद उड़े डॉक्‍टर के होश...


हैरान कर देने वाली घटना सामने आयी है। यहां एक बच्चा अपने खिलौने में लगे LED बल्ब को खेल-खेल में निगल गया बल्ब निगलने के बाद बच्चे को लगातार खांसी होने लगी।। इतना ही नहीं बच्चे के सीने में भी काफी दर्द हो रहा था। हालांकि, बच्चे के परिजनों को इस बारे में कोई जानकारी नहीं थी कि वह एक बल्ब निगल चुका है। ऐसे में बच्चे को दिक्कतों में देखकर उसके माता-पिता उसे डॉक्टर के पास ले गए। डॉक्टर ने बच्चे को खांसी और सीने में दर्द की दवाई दे दी।


डॉक्टर द्वारा दी गई दवाई खाने के बाद भी बच्चे की तकलीफें कम होने के बजाए बढ़ती ही जा रही थीं। बच्चे की ऐसी हालत देखकर उसके माता-पिता काफी घबरा गए, जिसके बाद वे उसे अस्पताल लेकर पहुंचे। अस्पताल में जब डॉक्टरों ने बच्चे की हालत देखी तो उन्हें भी पहले कुछ समझ में नहीं आया कि साधारण खांसी की वजह से उसकी हालत इतनी खराब कैसे हो गई। जिसके बाद डॉक्टरों ने बच्चे का एक्स-रे किया। एक्स-रे रिपोर्ट देखने के बाद डॉक्टरों की भी हालत खराब हो गई।


रिपोर्ट में डॉक्टरों ने देखा कि उसके सांस लेने वाली नली और फेफड़ों के बीच में कोई अज्ञात चीज फंसी हुई है। बच्चे की उम्र काफी कम थी, जिसकी वजह से डॉक्टरों ने उसका ऑपरेशन नहीं किया। समस्या काफी जटिल थी, जिसके बाद डॉक्टरों ने सोच-समझकर पहले तो बच्चे को बेहोश किया और फिर उसके मुंह के रास्ते कोई चीज डालकर बल्ब बाहर निकाल दिया। इससे पहले डॉक्टरों को भी इस बारे में नहीं मालूम था कि उसके शरीर में बल्ब फंसा हुआ है। बल्ब बाहर निकाले जाने के बाद बच्चे की हालत स्थिर है और अब वह सुरक्षित है।


Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image