यूपी में पंचायत चुनाव से जुडी बड़ी खबर, अब इन महत्त्वपूर्ण पदों पर जनता करेगी सीधे चुनाव!


लखनऊ. राज्य निर्वाचन आयोग ने जिला पंचायत अध्यक्ष व क्षेत्र पंचायत प्रमुख के चुनाव सीधे जनता से कराने का प्रस्ताव दिया है। प्रस्ताव में पिछले सात सालों में नगर निगम महापौर व नगर पालिका परिषद अध्यक्ष के मुकाबले जिला पंचायत व क्षेत्र पंचायत प्रमुख के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव के आंकड़ों का ब्यौरा दिया है। राज्य निर्वाचन आयोग के अपर निर्वाचन आयुक्त वेद प्रकाश वर्मा के अनुसार नगर निगम महापौर और नगर पालिका परिषद अध्यक्ष जनता से चुनाव में जीत कर आते हैं। इनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव नहीं आते। जबिक जिला पंचायत अध्यक्ष व क्षेत्र पंचायत प्रमुख पंचायत के निर्वाचित सदस्यों द्वारा चुने जाते हैं इसलिए इनके खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव भी ज्यादा आते हैं। इस कारण जिला पंचायत अध्यक्ष व क्षेत्र पंचायत प्रमुख अपना कार्यकाल पूरा नहीं पाते और अपने पद की गरिमा को बचाने की भी जुगत में लगे रहते हैं। इस वजह से अन्य काम प्रभावित होते हैं।


Popular posts
शहीद भगत सिंह वार्ड द्वितीय : नए वार्ड के विकास के लिए पूरी प्रतिबद्धता से चुनावी लड़ाई में हैं दिनेश कुमार रावत
Image
जानकीपुरम वार्ड तृतीय : शिक्षित- समर्पित, जनता व पार्टी के लिए लाभकारी पार्षद होंगे राकेश रावत (एडवोकेट)
Image
फजुल्लागंज वार्ड चतुर्थ : युवा जोश और विकास की नई सोच से ओत-प्रोत हैं पंकज रावत उर्फ आदित्य
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : श्री राधाकृष्ण मंदिर के आशीर्वाद से जनता तो खुश रहेगी ही, पार्टी भी खुश रहेगी - मायाराम यादव
Image
शहीद भगत सिंह वार्ड प्रथम : वार्ड की जनता ने ठाना है उपविजेता प्रकाश राजपूत को अबकी विजेता बनाना है।
Image