यूपी की ट्रैफिक पुलिस को मिली अब फिर नई वर्दी


लखनऊ: उत्तर प्रदेश में यातायात पुलिस के जवान अब गहरे नीले रंग की पैंट और सफेद रंग की शर्ट में दिखेंगे। यातायात पुलिसकर्मी यह वर्दी प्रदेश में बहुजन समाज पार्टी (बसपा) की सरकार में पहनते थे। पुलिस विभाग के वरिष्ठ अधिकारियों ने कहा कि इसका उद्देश्य महाराष्ट्र और दिल्ली जैसे अन्य राज्यों के साथ एकरूपता लाना है। इन राज्यों में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट और गहरे नीले रंग की पैंट है। मायावती ने 2008 में अपने शासन में ट्रैफिक पुलिस की वर्दी सफेद शर्ट-सफेद पेंट से बदलकर सफेद शर्ट और नीली पैंट कर दी थी। उनका मानना था कि सफेद पैंट जल्दी गंदे हो जाते हैं।


यह वर्दी बसपा की एक फ्रंटल शाखा बहुजन वॉलंटियर फोर्स (बीवीएफ) जैसी होने के कारण विवाद की संभावनाओं को देखते हुए यह निर्णय वापस ले लिया गया था। इसके बाद प्रदेश में समाजवादी पार्टी (सपा) की सरकार आने पर अखिलेश यादव ने ट्रैफिक पुलिस की वर्दी बदलकर सफेद शर्ट और खाकी पैंट कर दी थी। अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ट्रैफिक) पुर्णेंदु सिंह ने कहा कि वदीर् बदलने पर सहमति अक्टूबर में बनी और दो महीने का समय नई वर्दी की तैयारियों के लिए दिया गया। उन्होंने कहा कि नया ड्रेस कोड राज्य में सभी ट्रैफिक उप-निरीक्षकों के साथ-साथ ट्रैफिक निरीक्षकों पर भी लागू होगा।


Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
महानगर वार्ड: क्षेत्र में भेदभाव और विकास की अनदेखी लाई है ऊषा चौधरी को मैदान में !
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): अगर भाग्य ने साथ दिया तो बीडीसी रहने का अनुभव काम आएगा प्रमोद कुमार रावत को
Image