परमाणु क्षमता से लैस अग्नि-III मिसाइल का पहला रात्रि परीक्षण

मिसाइल के मार्ग की निगरानी की जा रही है और परीक्षण के नतीजे का इंतजार है।





बालासोर। परमाणु आयुध ले जाने में सक्षम एवं सतह से सतह पर मार करने वाली अग्नि-III बैलिस्टिक मिसाइल का शनिवार को यहां एक मोबाइल लॉंचर से प्रथम रात्रिकालीन परीक्षण किया गया। रक्षा सूत्रों ने यह जानकारी दी। यह मिसाइल 3,500 किमी से अधिक दूरी तक लक्ष्य को भेदने में सक्षम है।


यह परीक्षण ओडिशा तट के पास एपीजे अब्दुल कलाम द्वीप स्थित समन्वित परीक्षण रेंज से किया गया। सूत्रों ने बताया कि मिसाइल के मार्ग की निगरानी की जा रही है और परीक्षण के नतीजे का इंतजार है। रक्षा सूत्रों ने बताया कि मिसाइल की लंबाई 17 मीटर और व्यास दो मीटर है।


रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन (डीआरडीओ) के एक सूत्र ने कहा, ''अग्नि-III श्रृंखला में यह चौथा उपयोगकर्ता परीक्षण है जो मिसाइल के कार्य निष्पादन को दोहराने के लिए किया गया। पहली बार रात के समय में परीक्षण किया गया।'' अग्नि-III हाईब्रिड दिशानिर्देशन और नियंत्रण प्रणाली से लैस है।इस पर अत्याधुनिक कंप्यूटर भी लगा हुआ है। 



Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
महानगर वार्ड: क्षेत्र में भेदभाव और विकास की अनदेखी लाई है ऊषा चौधरी को मैदान में !
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): अगर भाग्य ने साथ दिया तो बीडीसी रहने का अनुभव काम आएगा प्रमोद कुमार रावत को
Image