फैसले के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने ट्विटर पर क्यों डाला ये बुक कवर?


सुप्रीम कोर्ट ने अयोध्या के राम जन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद पर फ़ैसला दे दिया है. जहां बाबरी मस्जिद के गुंबद थे, वो जगह अब हिंदू पक्ष को मिलेगी. साथ ही सुन्नी वक़्फ़ बोर्ड को मस्जिद बनाने के लिए पाँच एकड़ ज़मीन उपयुक्त जगह पर दी जाएगी. दशकों पुराने इस विवाद में हिंसक संघर्ष, विरोध प्रदर्शन और कई बड़े राजनीतिक घटनाक्रम शामिल रहे हैं. लंबे कानूनी सफ़र के बाद सुप्रीम कोर्ट का फ़ैसला सोशल मीडिया पर छाया हुआ है. अभी भारत में गूगल पर अयोध्या, राम जन्मभूमि, सुप्रीम कोर्ट, बाबरी मस्जिद, राम और विश्व हिंदू परिषद जैसे शब्द सबसे ज़्यादा सर्च किए जा रहे हैं.


फ़ैसला आने के डेढ़ घंटे बाद तक ट्विटर पर टॉप 10 ट्रेंड्स अयोध्या विवाद से जुड़े थे.


प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ट्विटर पर लिखा है कि इससे पता चलता है कि क़ानूनी तरीके से कोई भी विवाद सुलझाया जा सकता है और क़ानून की नज़र में सब बराबर होते हैं.