महिलाओं के चश्मा पहनने पर लगी पाबंदी - वजह कर देगी हैरान
जापान में कुछ कंपनियों ने दफ़्तर में महिला कर्मचारियों के चश्मा पहनने पर पाबंदी लगा दी है। दिलचस्प ये है कि इन्हीं कंपनियों में पुरुषों के चश्मा पहनने पर कोई रोक नहीं है।  इस गैर जरूरी नियम के खिलाफ सोशल मीडिया में जमकर आलोचना की जा रही है। जपान में कई कंपनियां महिला रिसेप्शनिस्ट के चश्मा पहनकर आने पर काम से लौटा दे रही हैं,जबकि पुरुष कर्मचारियों के साथ ऐसा नहीं है। कुछ एयरलाइनों और रेस्तरां में भी महिला कर्मचारियों को चश्मा लगाने से मना किया गया है। निजी कंपनियों का तर्क है कि चश्मे से महिलाओं की सुंदरता प्रभावित होती है जिससे उसके ग्राहकों पर गलत असर पड़ता है।

 

मीडिया रिपोर्ट्स से मिली जानकारी के मुताबिक जापान की एक नहीं बल्कि कई कंपनियों ने महिलाओं के चश्मा पहने पर बैन लगा दिया है। एक संस्थान में महिला रिसेप्शनिस्ट को काम पर चश्मा पहन कर आने से मना कर दिया गया जबकि उनके साथी पुरुष कर्मचारी को इसकी अनुमती दी है। इसके पीछे कपनी ने यह तर्क दिया कि काम पर महिलाओं के चश्मा पहनने से उनकी सुन्दरता पर प्रभाव पड़ता है और कंपनी के क्लाइंट्स पर इसका गलत प्रभाव पड़ता है।

 

जापान की ही एक दूसरी कंपनी ने अपने ऑफिस में चश्मा बैन करने के अलावा महिलाओं का मेकअप करके आना अनिवार्य कर दिया है। इसके अलावा कंपनी ने अपनी महिला कर्मचारियों को शख्त निर्देश दिया है कि वह अपना वजन कम करें और आकर्षक बन कर रहें। महिला कर्मचारियों के चश्मे पर बैन लगने के बाद यह मामला सोशल मीडिया पर वायरल हो गया। कई महिलाओं ने सोशल मीडिया पर इसके खिलाफ कड़ा विरोध जताया है। जापान के सोशल मीडिया पर #glassesareforbidden ट्रेंड कर रहा है।

Popular posts
जानकीपुरम तृतीय वार्ड (नया वार्ड): जो संघर्ष अपने जीवन के लिए किया है वही वार्ड के विकास के लिए करूंगा- गया प्रसाद रावत
Image
खरगापुर सरसवां : (नया वार्ड) निस्वार्थ भाव से जनता की सेवा विरासत में मिली है अजय कुमार यादव को
Image
खरगापुर सरसवां : जैसे मलेशेमऊ का विकास किया वैसे ही पूरे वार्ड का विकास करूंगा - मो० फारूख प्रधान
Image
जानकीपुरम तृतीय (नया वार्ड) : सादगी, संघर्ष व जनसेवा की मिसाल हैं प्रतिभा रावत
Image
खरगापुर सरसवां - मौका मिला तो प्रदेश में केले की सफल खेती की तरह ही वार्ड को सफल बनाऊंगा - राजकेशर सिंह
Image