महिला मेयर को पहले सड़क पर खदेड़ा फिर लाल रंग लगाकर जबरन काट दिए बाल


दक्षिण अमेरिकी देश बोलीविया (Bolivia) के एक छोटे कस्बे में हो रहे प्रदर्शन के दौरान वहां की महिला मेयर (Female Mayor) के साथ प्रदर्शनकारियों (Protestor) ने जानवरों जैसा व्यवहार किया. भीड़ ने पहले तो काफी देर तक मेयर को नंगे पैर सड़कों पर खदेड़ा, उसके बाद उनके चेहरे पर लाल रंग लगाकर जबरन उनके बाल भी काट दिए. गवर्निस पास पार्टी की पेट्रीसिया एरेस को प्रदर्शनकारी घंटों सड़क पर दौड़ाते रहे. घटना की सूचना पाकर मौके पर पहुंची पुलिस ने किसी तरह महिला मेयर को बचाया.


बताया जाता है कि राष्ट्रपति चुनावों के बाद से सरकार के समर्थकों और विरोधियों के बीच हिंसक झड़पें हो रही हैं. हिंसक झड़प के बीच अब तक तीन लोगों की मौत हो चुकी है. सरकार विरोधी प्रदर्शनकारियों के समूह ने विंटो में एक पुल को भी अपने कब्जे में ले लिया है. विंटो, बोलीविया का एक छोटा का कस्बा है. प्रदर्शनकारियों के मुताबिक राष्ट्रपति इवो मोरल्स के समर्थकों ने प्रदर्शन कर रहे लोगों को मौत के घाट उतार दिया है. प्रदर्शनकारी इन मौतों में से एक छात्र की मौत के लिए विंटो की मेयर पेट्रीसिया एरेस को जिम्मेदार मान रहे हैं.


बताया जा रहा है कि प्रदर्शनकारी मेयर को हत्यारा बताते हुए प्रदर्शन कर रहे थे. इसी दौरान कुछ नकाबपोश प्रदर्शनकारी वहां पहुंचे और उन्होंने मेयर को उनके कार्यालय से बाहर निकाल लिया. मेयर को नंगे पांव ही सड़क पर खदेड़ते हुए पुल तक लाया गया. इसके बाद मेयर को जमीन पर घुटनों के बल बैठा दिया गया और उनके पूरे शरीर पर लाल रंग लगा दिया गया. कुछ प्रदर्शनकारियों ने मेयर के जबरन बाल काट दिए और उनसे इस्तीफा पत्र पर हस्ताक्षर भी ले लिए.


वीडियो में सड़क पर गिरती दिखाई दीं


मेयर विंटो में प्रदर्शन का एक वीडियो तेजी से वायरल हो रहा है, जिसमें मेयर सड़क पर भागती हुई दिखाई दे रही हैं. प्रदर्शनकारी उनके पीछे दौड़ते हुए दिखाई दे रहे हैं. वीडियो में दिख रहा है कि मेयर दौड़ते हुए सड़क पर गिर पड़ती हैं इसके बावजूद प्रदर्शनकारी उन्हें घेरे रहते हैं. मेयर खुद को बचाने की पूरी कोशिश करती हैं लेकिन वो कुछ नहीं कर पातीं. इस वीडियो में देखा जा सकता है कि वह काफी घबराई हुई हैं. विंटो की मेयर को प्रदर्शनकारियों द्वारा घेर लिए जाने की खबर मिलते ही वहां पर पुलिस पहुंच गई और उन्होंने मेयर को बाइक में बैठा लिया और वहां से ले गई. पुलिस ने एरेस को स्थानीय स्वास्थ्य केंद्र तक लेकर गई. प्रदर्शनकारियों ने इस दौरान उनके कार्यालय में भी काफी तोड़फोड़ की. जिस प्रदर्शनकारी की मौत हुई है उसकी पहचान 20 साल के लिंबर्ट गजमैन वाक्यू के तौर पर हुई है. डॉक्टरों का कहना है कि वासक्यू के सिर पर काफी चोट आई थी. जांच में पता चला था कि लिंबर्ट की मौत में मेयर पेट्रीसिया एरेस का हाथ था.