इटावा मुठभेड़ में मारा गया इनामी दुष्कर्मी हत्यारोपी सचिन जाटव


इटावा। उत्तर प्रदेश में इटावा जिले के जसवंतनगर क्षेत्र में जलपोलखरा गॉव के पास  हुई पुलिस मुठभेड़ में 25 हजार का इनामी हत्यारोपी दुष्कर्मी मारा गया। वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक संतोष कुमार मिश्रा ने शुक्रवार को यहां यह जानकारी दी। उन्होंने बताया कि सात नवम्बर को जसवंतनगर क्षेत्र के धरवार गांव में शादी समारोह से सचिन जाटव नामक युवक एक नौ साल की बच्ची को बहला-फुसला कर अपने साथ ले गया और दुष्कर्म के बाद उसने उसकी हत्या कर दी थी।

 

इस सिलसिले में सचिन जाटव के खिलाफ घारा 302,376 और पास्को एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज कराया गया था। घटना के बाद से वह फरार चल रहा था और उसकी गिरफ्तारी पर 25 हजार का इनाम घोषित कर रखा था। उन्होंने बताया कि आज सुबह पुलिस को सूचना मिली कि आरोपी बाइक सवार सचिन जाटव इसी इलाके में कही छुपा हुआ है। सूचना पर पुलिस ने उसकी घेराबंदी की । खुद को घिरा देख वह आगरा-कानपुर हाईवे पर भाग ने लगा।

 

पुलिस ने उसे आत्मसमर्पण के लिए ललकारा लेकिन उसने पुलिस पर तमंचे से गोली चलानी शुरु की । पुलिस ने भी अपने बचाव में जवाबी कार्रवाई करते हुए गोली चलाई गई । इस दौरान गोली लगने से सचिन जाटव की मृत्यु हो गई। उसके पास से एक तमंचा ,कारतूस बरामद किए गये। मौके पर मिली मोटरसाइकिल के बारे में पता कराया जा रहा है कि वह किस की है। मिश्र ने बताया कि मुठभेड़ में मारा गया दुष्कर्मी सचिन इटावा शहर के घटिया अजमत अली मोहल्ला का रहने वाला था।