15 साल से कम समय में मिलेगी प्रदूषण से मुक्ति : प्रकाश जावड़ेकर


नई दिल्ली। वन एवं पर्यावरण मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने वायु प्रदूषण  पर गंभीर चिन्ता व्यक्त करते हुए गुरुवार को कहा कि 15 साल से कम समय में  ही देश इस समस्या से मुक्त हो जायेगा। जावड़ेकर ने राज्यसभा  में भारतीय जनता पार्टी के आर के सिन्हा और दो अन्य सदस्यों के वायु  प्रदूषण सूचना पर हुयी चर्चा का उत्तर देते हुए कहा कि वायु प्रदूषण को  लेकर लोगों में जागरुकता लाने के लिए जन आन्दोलन चलाना होगा और व्यापक  पैमाने पर वृक्षारोपण करना होगा । उन्होंने कहा कि दुनिया में दो देशों में  ग्रीन कवर बढा है जिनमें भारत भी शामिल है।

 

उन्होंने कहा कि  वायु गुणवत्ता सूचकांक दिल्ली और कई अन्य शहरों में 350 के आंकड़े को पार कर  गया जबकि चेन्नई, बेगलूरु, हल्दिया , मैसूर , तिरुपति तथा कई अन्य शहरों  प्रदूषण का स्तर काफी कम है । गंगा के मैदानी इलाकों में भी अधिक प्रदूषण  की समस्या है। हिमालय से आने वाली नमी और पानी में धूल के मिलने से ट्रफ  बनता है जिससे प्रदूषण की समस्या है। यदि 20 किलोमीटर प्रति घंटे की  रफ्तार से हवा चले तो प्रदूषण समाप्त हो जाता है ।